Thursday , January 17 2019
Breaking News
Home / ताजा खबर / प्रदेश के किसानों से माफी मांगे राहुल गाँधी: डॉ. अरूण चतुर्वेदी

प्रदेश के किसानों से माफी मांगे राहुल गाँधी: डॉ. अरूण चतुर्वेदी

जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री डॉ. अरूण चतुर्वेदी ने प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज जयपुर में कांग्रेस ने जिस उद्देश्य को लेकर रैली बुलायी थी, वह उद्देश्य फेल हो गया।
डॉ. चतुर्वेदी ने कहा कि राहुल गाँधी को प्रदेश के किसानों से माफी मांगनी चाहिए क्योंकि सरकार बने हुए 17 दिन से अधिक हो गये, फिर भी अभी तक ऋण माफी नहीं हुई है। अभी तक केवल समिति बनी है, वह समिति यह भी तय नहीं कर पायी कि ऋण माफी के लिए राशि की व्यवस्था कहाँ से होगी और किस प्रकार ऋण माफी होगी।
डॉ. चतुर्वेदी ने कहा कि राहुल गाँधी को प्रदेश के किसानों से माफी मांगनी चाहिये क्योंकि केन्द्र सरकार से पर्याप्त यूरिया मिलने के बाद भी किसानों को समय पर यूरिया नहीं मिल पा रहा है। रात्रि में सिंचाई के लिए बिजली देने से सर्दी के कारण एक किसान की मृत्यु हो गई, इस पर भी राहुल गाँधी को माफी मांगनी चाहिए।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधते हुए डॉ. चतुर्वेदी ने कहा कि हमारी सरकार जो कार्य शुरू कर चुकी थी, मुख्यमंत्री उन्हीं को दोहरा रहे है। गहलोत ने पिछले कार्यकाल में बिजली की कीमत नहीं बढ़ाने की बात कही थी, फिर भी उन्होंने 5 बार बिजली की कीमतें बढ़ायी थी। मुख्यमंत्री के बयानों से ऐसा लगता है कि वे किसानों की ऋण माफी को केन्द्र सरकार पर डालने की मंशा रखते है।
डॉ. चतुर्वेदी ने कहा कि राहुल गाँधी को आर्थिक पिछड़ा वर्ग के 10 प्रतिशत आरक्षण के विषय पर बोलना चाहिए था। उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी राफेल मामले में ना सुप्रीम कोर्ट को मानते है और ना ही तथ्यों को। वास्तव में राहुल गाँधी ‘‘चोर मचाये शोर’’ की कहावत को चरितार्थ कर रहे है। प्रधानमंत्री को बचाने के लिए रक्षा मंत्री के नाम का जिस प्रकार राहुल गाँधी ने उल्लेख किया, इस बात के लिए भी राहुल गाँधी को माफी मांगनी चाहिए।
डॉ. चतुर्वेदी ने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों के बिजली बिल भी माफ किये थे। भाजपा की सरकारों ने राजस्थान, महाराष्ट्र तथा उत्तर प्रदेश में किसानों की ऋण माफी की है। केन्द्र की भाजपा सरकार ने किसानों के लिए मृदा परीक्षण तथा समर्थन मूल्य बढ़ाने जैसे अनेक उत्कृष्ट कार्य किये है।

Check Also

राफेल विमान सौदे की जाँच जेपीसी द्वारा होनी चाहिए क्योंकि मोदी सरकार ने राफेल विमान सौदे में ऑफसेट कॉन्ट्रेक्ट एचएएल की बजाय अम्बानी की कम्पनी को सौंप दिया – राहुल गाँधी

जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनी है, यह सरकार राजस्थान की जनता, किसान, युवा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *